मॉर्निंग वाक के दौरान अपने ही स्वच्छता अभियान के तहत काम करते नजर मोदी आये

 चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग भारत के दौरे पर हैं। चेन्नई से तकरीबन 57 किलोमीटर दूर भारत-चीन के पुराने रिश्तों का गवाह रहे मामल्लपुरम यानी महाबलीपुरम में शुक्रवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शी चिनफिंग की मुलाकात हुई। इसी के साथ ही आज यानी शनिवार को भी दोनों नेता इसी जगह हैं, जहां आज भी दोनों नेताओं के बीच बातचीत होगी। हालांकि, इससे पहले पीएम मोदी ने अपने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें और एक वीडियो साझा की। पीएम मोदी द्वारा साझा की गई तस्वीरें बेहद ही खूबसूरत है। हालांकि, शेयर की गई वीडियो में तमाम ऐसे लोगों को संदेश भी है, जो अभी भी स्वच्छता पर जोर नहीं दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ताज फिशरमैन कोव रिज़ॉर्ट और स्पा के बाहर समुद्र तट पर फेंकी गई प्लास्टिक की बोतलों, प्लेटों और अन्य कचरे को यहां एकत्र किया जहां वह ठहरे हुए हैं। काली t-shirt, पायजामा में पीएम मोदी को सुबह की सैर के दौरान हाथ में एक बड़े प्लास्टिक बैग के साथ देखा गया।

पीएम मोदी मामल्लपुरम में एक सुंदर तट के किनारे नजर आ रहे हैं। वे मॉर्निंग वाक करने निकले हैं और व्यायाम भी कर रहे हैं। उन्होंने इस दौरान की कई तस्वीरें भी शेयर की।

View image on Twitter
View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
इसके दो मिनट बाद पीएम मोदी ने एक संदेश के साथ बीच (Beach) के किनारे फैले कूड़े को इकट्ठा करते वीडियो साझा की। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आज सुबह मामल्लपुरम में समुद्र तट पर सफाई की। यह 30 मिनट से अधिक समय तक चला।’ उन्होंने आगे बताया कि उनके द्वारा जो उन्होंने सारा प्लास्टिक व कूड़े को इकट्ठा किया था उसे जयराज को सौंप दिया गया, जो होटल का कर्मचारी है। इसके साथ ही उन्होंने संदेश जारी करते हुए कहा कि हम सुनिश्चित करें कि हमारे सार्वजनिक स्थान साफ सुथरे हैं। वहीं, उन्होंने कहा कि हम यह भी सुनिश्चित करें कि हम फिट और स्वस्थ रहें।
Embedded video
यहां आपको बता दें कि पीएम मोदी मामल्लपुरम चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मिलने के लिए गए हुए हैं। चीनी राष्ट्रपति दो दिन के भारत दौरे पर हैं। दोनों नेताओं के बीच शुक्रवार शाम को मीटिंग हुई थी। रात को मोदी और चिनफिंग ने डिनर पर करीब ढाई घंटे तक चर्चा की थी। उनके दौरे के दौरान आज यानी शनिवार को भी दोनों के बीच बातचीत होगी।
बताया गया कि दोनों शीर्ष नेताओं के बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्दों और सीमा विवाद पर वार्ता होगी। अंतरराष्ट्रीय मुद्दों और सीमा विवाद समेत अन्य उलझे मुद्दों पर बातचीत होगी। माना जा रहा है कि दोनों देशों की तरफ से शनिवार को द्विपक्षीय वार्ता के बाद सीमा पर विश्वास बहाली के लिए कुछ ठोस उपायों की घोषणा की जा सकती है।

You might also like More from author

Leave a Reply

%d bloggers like this: