DGP साहब …देख लो देहरादून पुलिस धारा चौकी के ये गुंडे

रात को 12.30 बजे संभ्रांत लोगो को जगाने वाले

देहरादून : पुलिस मुख्यालय ने बदमाशों व वारंटियों की धरपकड़ के आदेश क्या दिए की जिले की पुलिस के कुछ गुंडों की तो बांछे खिल गयी और खिलनी भी क्यों नही थी आखिर वसूली का मौका जो मिल गया और इसकी आड़ में दुश्मनों को अपनी दुश्मनी पुलिस के माध्यम से निकालने का मौका भी ।


प्राप्त जानकारी के अनुसार देहरादून के एक वकील ने धारा चौकी के पुलिसवालों को इस धरपकड़ की आड़ में चैक बाउन्स के व्यक्ति को परेशान करने का ठेका 10000 रुपये में दिया और धारा चौकी के 4 दरोगा और एक महिला पुलिस मिलकर ये गुंडे रात को 12.30 बजे ऊक्त संभ्रात व्यक्ति के घर पहुँच गए और उस कैम्पस के 4 घरों के लोगो के घरों के दरवाजों खरखड़ाते रहे और दरवाजा खुलते ही घरों में घुस गए और एक घर का तो दरवाजा तक तोड़ डाला । इसका सबूत यह है कि ऊक्त पुुुलिस के गुंडों की काल डिटेल  देखी  जाय कि कौन उनको रास्त्ता् बता रहा था ।

क्या यही है देहरादून पुलिस की कार्यशैली ? क्या आदमी की पहचान नही है देहरादून पुलिस को ?

क्या किसी चोरी,डकैती,लूटपाट,
हत्या,बलात्कार जैसी संगीन घटना का आरोपी था क्या जो रात को 12.30 जाकर उसके परिवार से बदतमीजी करने की जरूरत पड़ी ? क्या यह कार्य दिन में नही हो सकता था ?

 

देहरादून नागरिक परिषद ने  के गुंडे पुलिस वालों को ताकीद किया है कि ऐसी घटना की पुनरावर्ती न हो ।

साथ ही  वॉयस ऑफ नेशन ..जनता व देश की आवाज होने के साथ पुलिस मुख्यालय व DGP उत्तराखंड से मांग करता  है कि इन उगाही करने वाले गुंडों पर तत्काल कार्यवाहीं करे नही तो तब तक पुलिस विभाग की खबरों का बायकॉट किया जाएगा व ऐसी गम्भीर जन समस्या से जुड़ी खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित किया जाता रहेगा ।

You might also like More from author

Leave a Reply

%d bloggers like this: