मरणासन्न गाय को दिया नवजीवन, बाबा हठयोगी ने अपनी गौशाला में गाय को दिया आश्रय

हरिद्वार,VON NEWS हिल बाईपास खड़खड़ी में एक गाय मरणासन्न अवस्था में पड़ी थी जिसे उसका मालिक बीमार होने के चलते मरणासन्न स्थित में सड़क पर छोड़ गया था। क्षेत्रवासियों ने इसकी सूचना पार्षद एवं समाजसेवी अनिरूद्ध भाटी को दी। जिस पर अनिरूद्ध भाटी ने नगर निगम की गाड़ी मंगवा कर क्षेत्रवासियों के सहयोग से गाय को चण्डीघाट स्थित बाबा हठयोगी की गौशाला में पहुंचाया।
बाबा हठयोगी ने मरणासन्न गाय का उपचार शुरू कराया जिससे गाय को नवजीवन मिला। घटनाक्रम के अनुसार कोई अपनी बीमार मरणासन्न गाय को खड़खड़ी हिलबाईपास पर छोड़ गया था जिसे कौए व कुत्ते नोंच रहे थे। दयालु गौभक्त शारदा धीमान, प्रदीप शर्मा ने गाय की गंभीर दशा को देखकर उसे कम्बल ओढ़ाकर रात में सर्दी से बचाया और प्रातः पार्षद अनिरूद्ध भाटी के घर जाकर गाय को बचाने की गुहार लगायी। जिस पर अनिरूद्ध भाटी ने अपने साथियों सुमित बंसल, गौरव सचदेवा, सूर्यकान्त शर्मा, अनुपम त्यागी के साथ नगर निगम से वाहन मंगवाकर गाय का प्राथमिक उपचार कराया और चण्डीघाट स्थित बाबा हठयोगी की गौशाला में उसके आश्रय की व्यवस्था के लिए बाबा हठयोगी से वार्ता की। अनिरूद्ध भाटी के आग्रह को बाबा हठयोगी ने सहर्ष स्वीकार करते हुए गाय को अपनी गौशाला में आश्रय दिया जिससे बीमार गाय को नवजीवन मिला। क्षेत्रवासियों ने इस धर्म के कार्य के लिए जहां बाबा हठयोगी का आभार प्रकट किया वहीं सरकार से गौधन के लिए अच्छी व्यवस्था करने की मांग करते हुए बीमार, बूढ़ी गायों को आश्रय और उपचार देने की मांग भी की। बाबा हठयोगी व पार्षद अनिरूद्ध भाटी को साधुवाद देते हुए पं. राजेन्द्र शर्मा, नारायण भट्ट, जनेश्वर त्यागी, मा. गंगाराम पाल, पत्रकार प्रमोद गिरि, व्यापार मण्डल के अध्यक्ष कमल बृजवासी, पार्षद विनित जौली, अनिल मिश्रा, अनिल वशिष्ठ, विदित शर्मा ने भी गौवंश संरक्षण हेतु विशेष अभियान चलाने की मांग की।

You might also like More from author

Leave a Reply

%d bloggers like this: