भारतीय अर्थव्यवस्था को चुनौती देते यह तथ्य

देशवासी देश छोड़ कर जा रहे हैं ! हो रहा राष्ट्रीय पलायन

दिल्ली/देहरादून 5 मई वॉन न्यूज़ : क्या आपने कभी आंकलन किया है कि देश की आज अर्थव्यवस्था किस ओर जा रही है ? यदि नही तो आइए हम आपको बताते है कुछ विशेष तथ्य ; –
1. जेट एयरवेज 8000 करोड़ के घाटे में है और बताया जा रहा है कि बैंको के कंसोर्टियम ने इसको टेकओवर कर लिया है ।
2.एयर इंडिया  लगभग 5840 करोड़ के घाटे में चल रही है ।
3.BSNL 34000 कर्मचारियों को हटाने जा रही है क्योंकि 8000 करोड  के नुकसान में चल रहा है ।
4.हिंदुस्तान एयरोनॉटिकल लिमिटेड ने पहली बार अपने कर्मचारियों को तनखा देने के लिए 1000 करोड़ का ओवरड्राफ्ट लिया है ।
5.पोस्ट आफिस 15000 करोड़ के घाटे में है व चुनाव बाद कई कर्मचारियों को हटाने व निजी हाथों में देने की तैयारी  चल रही     है ।
6.वीडियोकॉन समूह 90000 करोड़ के कर्ज में डूबा  है ।

बैंक करप्ट भी हो गयी है ।

7.टाटा इंडिकॉम 46000 करोड़ के घाटे में है और जल्दी बन्द होने के कगार पर है ।

8.जेपी ग्रुप लगभग समाप्त है और 2000 करोड़ की देनदारी से जूझ रहा है ।
9.ONGC जिसने 2018 में सबसे ज्यादा मुनाफा दिया वो अब बन्द होने के कगार पर है  और  25500 करोड़ के घाटे में है ।और लगभग 25000 कर्मचारियों को हटाने जा रहा है ।

10.  देश का  मुख्य बैंक PNB 11000 करोड़ के घपले में फंसा है 280 करोड़ फ्राड में है ।
11.रेलवे जिसने 2000 ट्रिलियन डॉलर का व्यापार कर मुनाफा दिया आज 89000 करोड़ के कर्जे में है ।

12.  हमारा देश लगभग 1,13,100 मिलियन डॉलर के कर्जे में है ।

13.लाल किला किराये पर दे दिया गया है ।
14.बेरोजगारी चरम सीमा पर है ।
15.देश के 5 एयरपोर्ट किराये पर दे दिए गए हैं  निजी हाथों में जो ठीक से चला नही पा रहे हैं इसमे लखनऊ,अहमदाबाद,और जयपुर शामिल है ।

16. कई बड़े लोग भारत के बैंको का पैसा लेकर विदेश भाग गए है ।

17.IFCL का किस्सा सभी सुन रहे है व सुनने वाले है जिसमे अनगिनत छोटे बैंको का पैसा निबेश है और कम्पनी डूब गई तो कई छोटे बैंक तबाह व बर्बाद हों जाएँगे ।
18. देश के कई हिस्सों से व्यापारी भारत छोड़ कर कनाडा,स्विट्ज़रलैंड,दुबई ,ऑस्ट्रेलिया व थाईलैंड शिफ्ट हो गए है ।
अब आप सोचिये की देश किस ओर जा रहा है और इसकी अर्थव्यवस्था को किस प्रकार पटरी पर लाया जा सकता है ?
सभी पार्टियों ने इस देश की अर्थव्यवस्था से ख़िलवाड कर अपनी व अपने नेताओं की जेबे भरी है और देश को लूटा है । जागरूकता की जरूरत है । जरा सोचिए …..

You might also like More from author

Leave a Reply

%d bloggers like this: