जंगल में मवेशी चुगाने गए युवक को गुलदार ने मार डाला

ऋषिकेश। रायवाला क्षेत्र में राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज के सत्यनारायण सेक्शन में मवेशियों को चुगाने गए एक युवक को गुलदार ने मार डाला। हैरान करने वाली बात ये है कि रेंज अधिकारी इस मामले में पर्दा डालने की कोशिश में जुटे रहे। बाद में रायवाला पुलिस ने इसकी पुष्टि की। परिजनों ने समुदाय विशेष का हवाला देकर शव का पोस्टमार्टम नहीं होने दिया। युवक की अगले महीने शादी होने वाली थी।

जानकारी के मुताबिक गत देर शाम को राजाजी पार्क क्षेत्र से मवेशी चुगाकर वापस लौट रहे इरफान (22) पर साहबनगर के पास गुलदार ने हमला कर दिया। युवक के साथ में उसका छोटा भाई भी था जो कि भाग कर घर पहुंचा।

घटना का पता चलते ही परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन रात होने की वजह से सफलता नहीं मिल सकी। सुबह फिर से जंगल में खोजबीन करने पर इरफान क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ। इस बीच सूचना पर पुलिस व वन कर्मी भी मौके पर पहुंच गए। परिजनों की आपत्ति पर पुलिस शव को पोस्टमार्टम नहीं कर सकी। बाद में परिजन शव को गैंडीखाता हरिद्वार ले गए और दफन कर दिया।

सवालों के घेरे में पार्क प्रशासन 

वहीं मोतीचूर के रेंज अधिकारी प्रमोद ध्यानी ने इस तरह की घटना होने से साफ इंकार कर दिया। दरअसल राजाजी पार्क क्षेत्र में मानवीय गतिविधियां प्रतिबंधित हैं लेकिन मोतीचूर व कांसरो रेंज में वन गुर्जरों की सक्रियता लगातार बनी हुई है। यहां वन गुर्जर रोजाना सैकडों मवेशियों को चुगाते देखे जा सकते हैं।

इन गुर्जरों ने बाकायदा पार्क की सीमाओं पर ढेरे बनाए हुए हैं। जंगल में इनके बेधड़क आवाजाही से पार्क अधिकारियों की कार्यशैली सवालों के घेरे में है। पार्क निदेशक सनातन ने बताया कि उनको घटना की जानकारी नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि पार्क की सीमा पर वन गुर्जरों के ढेरे और जंगल में घुसपैठ बेहद गम्भीर बात है। वह अपने स्तर से इसकी जांच करेंगे। दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी।

You might also like More from author

Leave a Reply

%d bloggers like this: